TRP Kya Hota Hai और इसे कैसे पता किया जाता है?

TRP kya hota hai
TRP meaning  in hindi

आपने कई बार सुना होगा की चैनल की TRP बढ़ गयी है या कम हो गयी है, तो आज हम इसी विषय में बात करने वाले है कि TRP Kya Hota Hai और इसे कैसे पता किया जाता है?

अगर आप TRP की पूरी जानकारी लेना चाहते है तो इस पोस्ट को ध्यान से जरुर पढियेगा| आज हम TRP meaning  in hindi के बारे में बहुत सी बाते जानेंगे|

इस ब्लॉग पोस्ट में दी गयी जानकारी-

  1. TRP Kya Hota Hai?
  2. TRP का क्या महत्व है?
  3. TRP कैसे तय होती है?
  4. TRP कैसे चेक करे?
  5. TRP का प्रभाव क्या होता है?
  6. दर्शको पर TRP का महत्व?

 

1. TRP Kya Hota Hai (What is TRP in Hindi)?

TRP क्या है? TRP का पूरा मतलब टेलीविज़न रेटिंग पॉइंट (television rating point) होता है| इसे हम TRP का full form भी कहते है|

TRP की मदद से हमे किसी भी चैनल या किसी भी धारावाहिक की लोकप्रियता के बारे में जानकारी मिलती है| इसकी मदद से हम लोगो की पसंद को जान सकते है| TRP हमे लोगो के बारे में जानने में बहुत मदद करता है|

TRP से हमे पता चलता है की लोग किसी चैनल को कितनी देर देख रहे है,इससे उन चैनल को advertiser ज्यादा ad देते है जिसकी मदद से वो ज्यादा कमाई करते है|

2.TRP का Kya महत्व Hota Hai?

जैसा कि हमने आपको पहले ही बताया है की TRP की मदद से चैनल को ad मिलता है जिससे उनकी कमाई होती है| इसलिए चैनल अपने TRP को बढाने में लगे रहेते है जिससे उनकी ज्यादा कमाई हो पाए|

Advertiser ज्यादा TRP वाले चैनल्स तो ad इसलिए देते है क्यूंकि वो चाहते है की उनके ad को ज्यादा से ज्यादा लोग देखें ताकि उनके प्रोडक्ट ज्यादा ख़रीदे जा सके|

3.TRP कैसे तय होती है?

TRP तय करने के लिए एक एजेंसी बनाई गयी है जिसका नाम इंडियन टेलीविज़न ऑडियंस मेजरमेंट एजेंसी है| यह एजेंसी पता लगाती है की लोग कौन से चैनल को ज्यादा देख रहे है|

TRP पता करने के लिए यह एजेंसी एक यन्त्र का इस्तेमाल करती है जिसे (People meter) कहा जाता है| इसी यन्त्र का उपयोग करके एजेंसी टीवी चैनल और टीवी सीरियल की पूरी जानकारी प्राप्त करती है|

इन सभी जानकारियों को इकट्टा करके एक लिस्ट बनाया जाता है जिसमे उन चैनल्स और शो को रखा जाता है जिनकी TRP सबसे ज्यादा होती है या जो शो सबसे ज्यादा देखे जाते है|

TRP को कौन मापता है?

TRP को मापने का काम इंडियन telivision ऑडियंस मेजरमेंट एजेंसी करती है,जिसे हम INTAM भी कहते है|

4.TRP कैसे चेक करे?

अगर आप किसी चैनल के TRP के बारे में जानना चाहते है तो आप गूगल के इस्तेमाल से मौजूद डाटा को जान सकते है| TRP पता करने का काम सिर्फ एजेंसी ही करती है|

TRP को मुख्य रूप से दो तरीको से पता किया जाता है-

  1. People मीटर
  2. Picture मैचिंग

1.People मीटर- यह TRP पता करने का सबसे उपयोगी और सरल तरीका है, इसमें फ्रीक्वेंसी का इस्तेमाल करके ये पता लगाया जाता है कि लोग किस समय कौन से चैनल को ज्यादा देख रहे है और वह कितने समय किस शो को देख रहे है| इसका इस्तेमाल करके एजेंसी चैनल के हफ्ते और महीने के TRP को बताती है|

2.Picture मैचिंग- आपको इस method के नाम से ही अंदाजा लग गया होगा की इसमें पिक्चर को मैच किया जाता है| इस method में एक ही समय में बहुत से टीवी के स्क्रीन को कैप्चर किया जाता है और फिर उसे आपस में मिलाया जाता है जिससे पता चल जाता है की लोग किस चैनल को ज्यादा लोग देख रहे है|

अब के समय में इस method का इस्तेमाल बहुत कम होता है|

5.TRP का प्रभाव Kya Hota Hai?

आपने कभी सोचा है की TRP क्या होता है और इसका चैनल पर क्या प्रभाव पड़ता है?

किसी भी चैनल को चलाने के लिए ढेर सारे पैसो की जरुरत होती है और इसलिए चैनल के लिए ये भी जरुरी है की उसे ज्यादा से ज्यादा ad मिले जिनसे उनकी कमाई हो सके|

किसी भी advertiser के लिए यह जरुरी है की वो किसी ऐसे चैनल पर अपने ad को चलाये जिसे ज्यादा लोग देखते हो जिससे की उसके प्रोडक्ट को ज्यादा लोग ख़रीदे|

TRP एक चैनल और एक advertiser की बहुत हेल्प करता है की चैनल अपने लिए ज्यादा ad ला पाए और advertiser अपने ad को अच्छे चैनल्स पर चलवा पाए|

6.दर्शको पर TRP का महत्व

TRP का इस्तेमाल करके हम दर्शको की पसंद को जान सकते है , जिससे चैनल ऐसे शो को और लाते है जिसे दर्शक ज्यादा प्यार देते है|


अंतिम शब्द-

इस पोस्ट में आपने TRP kya hota hai, TRP का Full Form, TRP कैसे पता करे इन सभी विषयो के बारे में अच्छे से जान लिया है| अगर आपको अभी भी TRP के विषय कोई जानकारी चाहिए तो आप हमसे कमेंट में पूछ सकते है| आप हमे कमेंट में अपना सुझाव भी बता सकते है|

अगर यह पोस्ट (TRP meaning  in hindi) अच्छा लगा हो तो कृपया इस पोस्ट को Social Media Sites जैसे Facebook, WhatsApp और Twitter आदि पर नीचे दिए गए बटन का उपयोग करके share करना न भूलें जिससे और भी लोग इस जानकारी का लाभ ले सकें। इस तरह की और जानकारी सबसे पहले पाने के लिए घंटे के निशान को ज़रूर दबाएँ धन्यवाद।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here