Cache Memory क्या है? Types of Cache Memory के बारे में जानिये हिंदी में!

Cache Memory क्या है? आप शायद एक से अधिक बार इसके बारे में सुने होंगे, आमतौर पर इसे “कैश” के रूप में संक्षिप्त में बोला जाता है। आपने समय-समय पर इसे डिलीट करने या न करने के बारे में भी सुना होगा। इस article में हम आसान शब्दों में आपको समझाने की कोशिश करेंगे कि What is cache memory in Hindi और इसका क्या उपयोग है, जिससे आपको एक बेसिक जानकारी हो जाये कंप्यूटर के इस component के बारे में।

Cache Memory क्या है (What is cache memory in Hindi)

cache memory in hindi

Cache Memory वो अस्थिर कंप्यूटर मेमोरी है जो CPU के बहुत पास में होती है जिसे CPU memory भी कहा जाता है, सभी Recent Instructions, Cache Memory में ही store होते हैं। यह सबसे तेज़ मेमोरी होती है जो कंप्यूटर माइक्रोप्रोसेसर को हाई-स्पीड डेटा एक्सेस प्रदान करती है। Cache का उपयोग user द्वारा दिए गए इनपुट को संग्रहीत करने के लिए किया जाता है और जो कंप्यूटर माइक्रोप्रोसेसर के कार्य करने के लिए आवश्यक होता है। लेकिन Memory (random access memory (RAM)) और Hard Disk की तुलना में कैश मेमोरी की क्षमता बहुत कम होती है।

कैश मेमोरी का क्या महत्व है

Cache Memory काफी महंगी होती है और इसकी क्षमता भी सीमित होती है। पहले कैश मेमोरी अलग से उपलब्ध होती थीं लेकिन अब माइक्रोप्रोसेसर में चिप पर ही कैश मेमोरी होती है। कैश मेमोरी की आवश्यकता main memory और CPU की गति के बीच mismatch के कारण होती है। CPU clock काफी तेज होता है, जबकि main memory का access time तुलनात्मक रूप से धीमा होता है। इसलिए, कोई फर्क नहीं पड़ता कि प्रोसेसर कितना तेज है, processing speed main memory की speed पर अधिक निर्भर करती है।

कैश मेमोरी वर्तमान में execute हो रहे प्रोगाम को  या उसके part को store करती है। cache memory अस्थायी डेटा (temporary data) भी store करती है जो CPU को अक्सर manipulation के लिए आवश्यक हो सकता है। Cache Memory विभिन्न algorithms के अनुसार काम करती है, जो यह तय करती है कि उसे क्या जानकारी store करनी है। ये algorithms यह तय करने की संभावना पर काम करते हैं कि कौन से डेटा की सबसे अधिक आवश्यकता होगी।

Cache Memory के प्रकार (Types of Cache Memory in Hindi)

Cache Memory के प्रकार को विभिन्न level में विभाजित किया जाता है जो L1, L2, L3 हैं:

L1 cache या Primary Cache

L1 primary type cache memory होती है। L1 cache की size अन्य की तुलना में बहुत कम होती है जो 2KB से 64KB के बीच होती है, यह कंप्यूटर प्रोसेसर पर निर्भर करता है। यह सीपीयू कैश के रूप में प्रोसेसर चिप में एम्बेडेड होती है। सीपीयू द्वारा आवश्यक Instructions सबसे पहले L1 Cache में खोजे जाते हैं।

L2 cache या Secondary Cache

L2 secondary type cache memory है। L2 cache का size L1 से अधिक capacious होता है जो 256KB से 512KB के बीच होता है। L1 Cache में instructions को सर्च करने के बाद, अगर वो नहीं मिलता है तो कंप्यूटर माइक्रोप्रोसेसर द्वारा L2 cache में सर्च किया जाता है।

L3 cache या Main Memory

L3 cache size में तो बड़ा होता है, लेकिन L1 और L2 की तुलना में speed में धीमा होता है, इसकी size 1MB से 8MB के बीच में होती है। Multicore processors में, प्रत्येक core में L1 और L2 हो सकते हैं, लेकिन सभी कोर एक सामान्य L3 cache साझा करते हैं।

Advantage Of Cache Memory in Hindi

कैश मेमोरी के फायदे इस प्रकार हैं:

  • Cache memory main memory से तेज होती है।
  • यह main memory की तुलना में कम access time का उपभोग करती है।
  • यह उस program को store करती है जिसे थोड़े समय के भीतर execute किया जा सकता है।
  • यह अस्थायी उपयोग के लिए डेटा को store करती है।

Disadvantage Of Cache Memory in Hindi

कैश मेमोरी के disadvantages कुछ इस प्रकार हैं:

  • Cache memory की क्षमता सीमित होती है।
  • यह बहुत मंहगी होती है।

यह लेख आपको कैसा लगा?

हम उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा यह लेख Cache Memory क्या है (What is cache memory in Hindi) पसंद आया होगा और अब आपको कैश मेमोरी के बारे में बेसिक जानकारी हो गयी होगी।

इस लेख में हम आपको Types of Cache Memory in Hindi के बारे में भी बताये हैं जिससे आप यह जान सकें कि आखिर Cache Memory कितने प्रकार की होती है। इसके साथ ही हमने Cache Memory के Advantage और Disadvantage के बारे में आपको जानकारी दी है।

अगर आप के पास हमारे लेख Cache Memory in Hindi से सम्बंधित कोई सवाल है या आप अपना कोई सुझाव देना चाहते है तो आप हमें comment के ज़रिये ज़रूर बताये।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो कृपया हमारे इस लेख को Social Media Sites जैसे Facebook,WhatsApp और Twitter आदि पर नीचे दिए गए बटन का उपयोग करके share करना न भूलें जिससे और भी बहुत से लोग इस जानकारी का लाभ ले सकें धन्यवाद।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here