विज्ञापन क्या है और इसका महत्व – Advertising in Hindi

विज्ञापन हर जगह हैं, और इसके बिना दुनिया की कल्पना करना मुश्किल है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि वास्तव में विज्ञापन क्या है (What is Advertising in Hindi)? विज्ञापन क्यों महत्वपूर्ण है (Why is advertising important in Hindi)? विज्ञापन के फायदे और नुकसान क्या हैं (What are the advantages and disadvantages of advertising in Hindi)?

तो अब आप परेशान मत होइए क्यूंकि आज हम आपके लिये एक complete guide लेकर आये हैं उत्तर देने के लिये उन सभी प्रश्नों के जो advertising के बारे में अक्सर पूछे जाते हैं।

विज्ञापन क्या है (What is advertising in Hindi)

Advertising in Hindi

Advertising एक प्रचार गतिविधि (promotional activity) है जिसका लक्ष्य किसी product या service को target audience को बेचना होता है। यह marketing के सबसे पुराने रूपों में से एक है जो अपने target audience को कुछ खरीदने, बेचने या कुछ विशिष्ट करने के लिए प्रभावित करने का प्रयास करता है।

Email Marketing और Search Engine Marketing जैसी अधिकांश अन्य marketing गतिविधियों की तुलना में Advertising बहुत पुराना है। चूंकि इंटरनेट अब एक आदर्श बन चुका है, इसलिए advertising को भी दो क्षेत्रों में विभाजित किया गया है: Traditional advertising और Digital advertising, तो चलिए जानते हैं इन दोनों के बारे में।

Traditional advertising print, TV, और radio advertisement से संबंधित है जो क़रीब 150 वर्षों से लोकप्रिय है।  Print advertising व्यवसायों के लिए सबसे प्रभावी विज्ञापन है क्योंकि यह एक target audience के इर्द-गिर्द घूमता है जो व्यक्तिगत रूप से flyers, newspapers और mail के माध्यम से विज्ञापन प्राप्त करते हैं।

Digital advertising किसी भी विज्ञापन गतिविधियों के इर्द-गिर्द घूमता है जैसे display advertising, PPC, Social Media advertising आदि। विज्ञापन का यह रूप सस्ता है और इसे ट्रैक करना आसान है, इसलिए यह Marketing का अधिक व्यापक रूप से इस्तेमाल किया जाने वाला रूप बन गया है।

 

विज्ञापन की विशेषताएँ (Characteristics of Advertising in Hindi)

  • Paid Form: विज्ञापन की आवश्यकता होती है, विज्ञापन संदेश बनाने के लिए, विज्ञापन मीडिया स्लॉट खरीदने के लिए, और विज्ञापन के प्रयासों पर नज़र रखने के लिए।
  • One Way Communication: Advertising एक one-way communication है जहां ब्रांड विभिन्न माध्यमों से ग्राहकों से संवाद (communicate) करते हैं।
  • Personal Or Non-Personal: Advertising non-personal हो सकते हैं जैसे कि टीवी, रेडियो या अखबार के advertisements के मामले में, या सोशल मीडिया और अन्य कुकी-आधारित advertisements के मामले में अत्यधिक personal हो सकता है।

 

विज्ञापन के प्रकार (Types Of Advertising in Hindi)

Traditional Advertising

  • Print Advertising

Print advertising आपके नाम को magazine, newspaper, periodical, या एक flyer के ज़रिये बाहर निकालने का एक प्रभावी तरीका है।

  • Billboards

दुनिया भर के शहरों के होर्डिंग पर लगभग किसी भी चीज़ के लिए स्थैतिक या बढ़ते उत्पाद विज्ञापन हो सकते हैं।

  • Television Advertising

50 से अधिक वर्षों से लोगों के सामने एक product को दिखाने का सबसे लोकप्रिय तरीका टेलीविजन विज्ञापन रहा है।

  • Radio Advertising

रेडियो विज्ञापन, हालांकि इसमें पूरी तरह से ऑडियो होता है इसके साथ जोड़ी बनाने के लिए कोई इमेजरी नहीं होती है, फिर भी यह बहुत प्रभावी होता है।

Digital Advertising

  • Social Media Advertising

Social Media platforms की लोकप्रियता में वृद्धि हुई है और इस नए trend के साथ, इन प्लेटफार्मों पर विज्ञापन आया। अच्छी तरह से पसंद की गई इन साइटों पर प्रचार विज्ञापन देना बहुत अच्छा है क्योंकि आप demographics को पहले से अधिक निकटता से target कर सकते हैं। आप केवल कुछ क्लिकों के साथ अपनी आयु वर्ग, रुचियां, स्थान और बहुत कुछ चुन सकते हैं।

  • Search and Display Advertising

Search engines ने प्रभावी विज्ञापन पर भी search and display ads का उपयोग किया है जो keyword searches के अनुरूप हैं।

  • Mobile Advertising

मोबाइल का उपयोग इतने कम समय में दस गुना बढ़ गया है और यह कोई आश्चर्य की बात नहीं है कि विज्ञापन को इसके हिस्से के रूप में भी पेश किया गया है। Mobile-first advertising में मोबाइल उपयोगकर्ताओं के उद्देश्य से SMS ads, app ads, और website advertisements शामिल हो सकते हैं। विकल्प अंतहीन होते हैं जब आप ऐसे audience के लिए marketing कर रहे होते हैं जो हमेशा अपने डिवाइस पर होते हैं।

  • Popups

वेबसाइट हमेशा से अधिक conversions और sales प्राप्त करने की कोशिश कर रही है। Effective ads इसे प्राप्त करने का तरीका हैं। पॉपअप का उपयोग करना जिसमें calls to action शामिल हो, एक अच्छा विचार है।

 

विज्ञापन के उद्देश्य (Objectives Of Advertising)

विज्ञापन के 3 मुख्य उद्देश्य य़े हैं:

  • सूचित करना

विज्ञापन का उपयोग target market में brand awareness और brand exposure को बढ़ाने के लिए किया जाता है। ब्रांड और उसके उत्पादों के बारे में potential customers को सूचित करना व्यावसायिक लक्ष्यों को प्राप्त करने की दिशा में पहला कदम है।

  • मनाना या राज़ी कराना

ग्राहकों को एक विशेष कार्य करने के लिए राजी करना विज्ञापन का एक प्रमुख उद्देश्य है। कार्यों में brand की image बनाने, brand के प्रति अनुकूल रवैया विकसित करने, उत्पादों और सेवाओं की खरीद या कोशिश करना शामिल हो सकता है।

  • याद दिलाना

विज्ञापन का एक अन्य उद्देश्य brand message को सुदृढ़ (reinforce) करना और brand vision के बारे में मौजूदा और potential customers को आश्वस्त (reassure) करना है। Advertising ब्रांड को मन की जागरूकता को बनाए रखने और ग्राहकों को चोरी करने वाले प्रतियोगियों से बचने में मदद करता है। इससे mouth marketing में भी मदद मिलती है।

 

विज्ञापन का महत्व (Importance Of Advertising)

Customers के लिए
  • सुविधा: Targeted सूचनात्मक विज्ञापन ग्राहक की निर्णय लेने की प्रक्रिया को आसान बनाते हैं क्योंकि उन्हें यह पता चलता है कि उनकी आवश्यकताओं और बजट के मुताबिक़ क्या है।
  • जागरूकता: Advertising ग्राहकों को बाजार में उपलब्ध विभिन्न उत्पादों और उनकी विशेषताओं के बारे में  शिक्षित करता है। यह जानकारी ग्राहकों को विभिन्न उत्पादों की तुलना करने और उनके लिए सर्वोत्तम उत्पाद चुनने में मदद करती है।
  • बेहतर गुणवत्ता: केवल ब्रांड ही खुद का और अपने उत्पादों का विज्ञापन करते हैं। unbranded उत्पादों के लिए कोई विज्ञापन नहीं होते हैं। यह ग्राहकों को बेहतर गुणवत्ता सुनिश्चित करता है क्योंकि कोई भी ब्रांड झूठे विज्ञापन पर पैसा बर्बाद नहीं करना चाहता है।
Business के लिए
  • जागरूकता: विज्ञापन target market से संबंधित लोगों के बीच ब्रांड और उत्पाद की जागरूकता को बढ़ाता है।
  • ब्रांड इमेज: Clever advertising व्यवसाय को ग्राहकों के मन में desired brand image और brand personality को बनाने में मदद करता है।
  • उत्पाद में भिन्नता: विज्ञापन व्यवसाय को और अपने उत्पाद को प्रतियोगियों (competitors) से अलग करने में मदद करता है और अपनी सुविधाओं और लाभों को target audience तक पहुंचाता है।
  • सद्भावना बढ़ाता है: Advertising brand vision को दोहराता है और अपने ग्राहकों के बीच brand की goodwill (सद्भावना) को बढ़ाता है।

 

विज्ञापन के लाभ (Advantages Of Advertising)

  • ब्रांड बिल्डिंग में मदद करता है: विज्ञापन brand building में प्रभावी ढंग से काम करते हैं। विज्ञापन देने वाले ब्रांड अधिक पसंद किए जाते हैं विज्ञापन न देने वाले ब्रांड की तुलना में।
  • नए उत्पाद को लॉन्च करने में मदद करता है: एक नए product को लॉन्च करना काफी आसान होता है जब वह एक विज्ञापन द्वारा समर्थित (backed) होता है।
  • मौजूदा ग्राहकों का ब्रांड में विश्वास बढ़ाता है: विज्ञापन मौजूदा ग्राहकों के विश्वास को बढ़ाते हैं क्योंकि उन्हें गर्व महसूस होता है किसी ऐसे brand या product को देखकर जो वो खुद इस्तेमाल करते हैं।
  • नए ग्राहकों को आकर्षित करता है: आकर्षक विज्ञापन नए ग्राहकों को प्राप्त करने और व्यवसाय को बढ़ाने में ब्रांड की मदद करते हैं।
  • ग्राहकों को शिक्षित करता है: विज्ञापन ग्राहकों को बाजार में मौजूद विभिन्न उत्पादों के बारे में सूचित करते हैं और उन्हें यह भी शिक्षित करते हैं कि उन्हें एक उपयुक्त उत्पाद में क्या देखना चाहिए।

 

विज्ञापन के नुकसान (Disadvantages Of Advertising)

  • लागत बढ़ जाती है: Advertising business के लिए एक व्यय (expense) है और उत्पाद की लागत में जोड़ा जाता है। यह लागत आखिर में end consumer द्वारा वहन की जाती है।
  • खरीदार को भ्रमित करता है: समान दावों वाले बहुत से विज्ञापन अक्सर खरीदार को भ्रमित करते हैं कि उन्हें क्या खरीदना है और क्या उन्हें उस product को खरीदना चाहिए या नहीं।
  • केवल बड़े व्यवसायों के लिए है: विज्ञापन एक महंगा मामला है और केवल बड़े व्यवसाय ही इसे वहन कर सकते हैं। यह छोटे व्यवसायों को बड़े व्यवसायों के साथ प्रतिस्पर्धा से बाहर कर देता है।
  •  Inferior Products की बिक्री को प्रोत्साहित करता है: प्रभावी विज्ञापन भी inferior products की बिक्री का कारण बनते हैं जो उपभोक्ताओं के लिए अच्छा नहीं है।

Advertising vs. marketing

अधिकांश लोग advertising vs marketing के बीच अंतर जानने के लिए काफी कोशिश करते हैं, लेकिन व्यवसायों के लिए यह पहचानना relevant है कि वे पर्यायवाची नहीं हैं।

अगर हम marketing को एक बड़े umbrella के रूप में देखें तो, एक उत्पाद या सेवा में रुचि रखने वाले दर्शकों को प्राप्त करने की पूरी प्रक्रिया इसके अंतर्गत आती है। Advertising इस प्रक्रिया में योगदान देने वाले कई subsets में से एक है।

Organizations यह समझते हैं कि उनके द्वारा की जाने वाली प्रत्येक कार्रवाई संभावित संपार्श्विक (potential collateral) के साथ आती है, इसलिए वे निवेशकों के लिए किसी भी दुर्घटना से बचने या व्यवसाय की समग्र सफलता के लिए रणनीतिक रूप से काम करते हैं। एक marketing plan जो उनके सभी marketing efforts और implementation के तरीकों को लागू करती है, आमतौर पर किसी भी गतिविधियों के execution से पहले विकसित की जाती है।

किसी भी marketing plan में research एक महत्वपूर्ण और पहला कदम होता है। एक बार जब कोई business अपनी market और potential customers को समझ लेता है, तो वे संपत्ति विकसित करने और एक ब्रांड को परिभाषित करने में सक्षम होते हैं जो उनके audience से बात करेंगे। और यहाँ से विज्ञापन अपना काम करने में सक्षम होता है।

आपको यह लेख कैसा लगा?

हम उम्मीद करते हैं कि आपको यह article What is Advertising in Hindi पसंद आया होगा और इसमें आपको काफी कुछ नया जानने को मिला होगा।

अगर आपके पास हमारे लेख विज्ञापन क्या है को लेकर कोई सवाल है या आप कोई सुझाव देना चाहते हैं तो आप नीचे comment box में लिख सकते हैं। 

अगर आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो कृपया इसे Social Media Sites जैसे Facebook,WhatsApp और Twitter आदि पे share ज़रूर करें जिससे और भी लोगो तक यह जानकारी पहुँच सके। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए हमारी साईट hindimesuchna को Bookmark करें धन्यवाद।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here